What is meant by WWW (World Wide Web) ? Who develop WWW ? Hindi



information about world wide web and the developer of world wide web

आजकल लगभग हर कोई Internet का उसे करता हैं और websites भी search करते हैं और लगभग सभी WWW का उसे करते हैं लेकिन उनमे से कुछ को WWW के बारे में नहीं पता होता हैं अगर आपको भी नहीं पता है तो मैं आपको बताऊंगा की WWW किसे कहते है ,कैसे काम करता हैं | अच्छे से समझने के लिए अच्छे से पोस्ट को पढ़े _

WWW क्या होता हैं ?

WWW की full form World Wide Web होती हैं और हिंदी में विश्व व्यापी वेब कहते हैं |और साधारण तौर पर इसे Web कहते है| WWW आपस में जुड़े Hypertext Documents को internet से प्राप्त करने का system हैं |WWW जानकारियों का भंडार हैं जो links के रूप में होता हैं , ये ऐसी तकनीक हैं जिससे पुरे विश्व के computers जुड़े रहते हैं |WWW html,http,web server और web browser पर काम करता हैं| एक Web browser की मदद से हम उन Webpages को देख सकते हैं जिनमे Images,videos और अलग multimedia होती हैं |WWW को टिम बर्नस ली ने यूरोपीय नाभिकीय  अनुसंधान संगठन जेनेवा स्विट्ज़रलैंड में अपने कार्यकाल के दौरान  सन  1989 में बनाया था और 1992 में जारी किया था|उसके बाद बर्नस ली ने Web के स्तरों के विकास ( जैसे Markup languages जिनसे webpages लिखे जाते हैं ) में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई|

WWW कैसे काम करता हैं ?

Web पर webpage देखने की शुरुआत web browser पर उसका URL डालने से होता हैं तब उस Webpage को ढूँढ कर Show करने के लिए अन्दर ही अन्दर संचार संदेशो की एक श्रंखला शुरू कर देता हैं सबसे पहले URl के server name ( जिसे DNS कहते हैं इसका मतलब Domain name server होता हैं | ) वाले हिस्से को  पुरे विश्व के internet database की सहायता से IP address में बदल दिया जाता हैं, web server से contact करने aur data packets भेजने के लिए IP address पता होना जरूरी हैं| उसके बाद Web browser वेबसर्वर के उस विशिष्ट पते पर Hypertext transfer protocol की प्रार्थना भेज कर resource से request करता हैं उसके बाद webpage खुलता हैं |अनेक webpages में पहले से ही उनके दुसरे pages,documents aur  downlaod आदि की hyperlink लिंक शामिल होती हैं इस उपयोगी और सम्बंधित संसाधनों के समागम को जो की hyperlinks से जुड़े होते हैं, को जानकारी का web कहा जाता हैं | 

WWW की History क्या हैं ?

WWW के उत्पत्ति के लक्षण 1980 में ही मिलना शुरू हो गए थे जब Tim berners li ने सर्न(यूरोपीय नाभिकीय  अनुसंधान संगठन) में ENQUIRE ( Enquire एक Software project था जो की 1980 में Tim berners li ने सर्न में लिखा था ) की रचना की थी |आज का system इससे बहुत अलग था लेकिन इसके मूल विचार काफी हद   तक सामान थे |मार्च 1989 में Tim ने एक प्रस्ताव रखा जिसमे ENQUIRE का ज़िक्र किया गया था और Robert Cailliaw की मदद से नवम्बर 12, 1990 में www का एक औपचारिकप्रस्ताव प्रकाशित किया | बर्नस ने 1990 में Nextcube का प्रयोग दुनिया के सबसे पहले web server  के रूप में किया उन्होंने इसका उपयोग दुनिया के सबसे पहले  web browser, WWW को लिखने के लिए किया था |बर्नस ने 6 अगस्त ,1991 में  www project का एक संछिप्त सार एक newsgroup पर पोस्ट किया| इसी दिन को वेब के सार्वजानिक होने के दिन के रूप में याद रखा जाता है |बर्नस की बड़ी सफलता Hypertext और internet का आपस में मिलाना था, उन्होंने अपनी किताब विविंग द  वेब  में इस बात का ज़िक्रे किया हैं की उन्होंने कसी दोना तकनिकी समुदायों(Hypertext और internet) के सदस्यों को सुझाव दिया की इनका आपस में मिलन हो सकता हैं लेकिन किसी ने उनका न्योता नहीं स्वीकार  और  आखिर  में उन्हें  ही हाथ डालना पड़ा |

स्पीड में फर्क पड़ा 

अधिक भीड़ भाड़  के कारन इन्टरनेट पर traffic बढ़ने लगा जिससे यूजर हताश होने लगे और इन्टरनेट की स्पीड काफी slow होगी इसी के कारण world wide web को एक अपमानजनक नाम World wide wait  दिया गया | इसके बाद आदर्श वेब प्रतिक्रिया ( Ideal web response इसका मतलब ये है की सभी वेब की स्पीड की तुलना इससे होगी ) की Guidelines दी गयी जो ये हैं _

➤ 0.1 सेकंड  आदर्श वेब प्रतिक्रिया का समय जिससे यूजर को को रूकावट का एहसास न हो |

➤ 1 सेकंड सबसे ज्यादा स्वीकार किया जाने वाला प्रतिक्रिया समय हैं  1 सेकंड के ऊपर का समय Download  रूकावट लाता हैं |

➤ 10 सेकंड सबसे ज्यादा अस्वीकार किया जाने वाला प्रतिक्रिया समय हैं इससे यूजर के काम में रूकावट आती हैं और वो साईट को छोड़ के चले जाने की सम्भावना होती हैं |

What is meant by WWW (World Wide Web) ? Who develop WWW ? Hindi What is meant by WWW (World Wide Web) ? Who develop WWW ? Hindi Reviewed by Shivam verma on Thursday, June 08, 2017 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.