What students should do after passing 10th and 11th ? Hindi

Guidance for student after passing 10th and 11th



अगर आपने भी जल्द ही 10th  और 11th के एग्जाम पास किये हैं तो ये पोस्ट आपको जरूर पढना चाहिए इसमें मैंने ऐसी बातें बताई हैं जो आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण हो सकती हैं या ऐसा भी हो सकता हैं की आपका पढाई करने का तरीका ही बदल जाए |तो मेरा टॉपिक हैं की "10th और 11th के exam ख़त्म हो जाने के बाद स्टूडेंट्स को क्या करना चाहिए" तो अब मैं शुरुआत करता हूँ | सबसे पहले मैं 10th के बच्चो के लिए बता रहा हूँ|

10th के Exam ख़त्म होने पर Students को क्या करना चाहिए ?

मैंने ऐसे बहुत से बच्चो को देखा है जो 10th के exam ख़त्म होने के बाद ऐसे आराम करते हैं की जैसे उन्होंने कोई बहुत बड़ी उपलब्धि हासिल कर  ली हो| जब तक उनका Result नहीं आ जाता हैं तब तक केवल आराम ही आराम करते हैं आराम के अलावा भी बहुत कुछ करते हैं जैसे घंटो तक खेलना , TV देखना, Computer पर देर तक Games खेलना, जरूरत से ज्यादा Social Media पर बने रहना और Latenight चैटिंग करना और भी बहुत सी चीजे करते हैं मैंने केवल Common बता दिए हैं |लेकिन पढ़ते नहीं हैं अगर पढ़ते हैं तो केवल मम्मी पापा को दिखाने के लिए की मैं पढ़ता हूँ | वो उनको भी पता रहता ही की मैं गलत कर रहा हूँ लेकिन खेलने और आराम करने के आगे सब सही हैं |
                          आराम करना,खेलना,सोशल मीडिया और Games खेलना गलत नहीं हैं लेकिन सभी चीजो की अपनी एक Limit होती हैं अगर आप वो Limit को तोड़ते हैं तो उसका आपके Life पर बहुत अधिक Effect पड़ता हैं लेकिन आपको उसका पता नहीं चलता हैं और एक असली Student वही हैं जो हर छेत्र में अपना Interest रखता हो |

क्या पूरी गलती बच्चो की होती हैं ?

नहीं ,पूरी गलती बच्चो की नहीं होती हैं यहाँ पर सबसे बड़ा रोल Guidance का होता हैं जिसे अच्छी Guidance मिलती हैं वो आगे बढ़ता चला जाता हैं और आगे बढ़ने की कोशिश करता हैं लेकिन किसी कारण से जिसे अच्छी Guidance नहीं मिल पाती हैं वो वही रहता हैं और आगे बढ़ने की कोशिश नहीं करता हैं और जब उसे पता चलता हैं तब तक बहुत देर हो चुकी होती हैं अगर आपकी Position भी यही हैं तो मैं आशा करता हूँ की मेरे इस Article से आपको जीवन में बढ़ने की प्रेरणा मिले |

Guidance का क्या मतलब होता हैं?

जो मैंने वर्ड लिखा हैं उसका मतलब तो आप जानते ही होंगे अगर नहीं जानते हैं तो कोई बात नहीं हैं मैं आपको बताता हूँ|  Guidance का मतलब निर्देश देना होता हैं साधारण शब्दों में अगर कहे तो इसका मतलब
किसी दुसरे  को बताना की वो कोई काम कैसे करे या कैसे अच्छा कर सकता हैं यहाँ पर काम कुछ भी हो सकता हैं | Guidance न होने के बहुत कारण हो सकते हैं |
जब बच्चे  10th में Admission लेते हैं या उसमे पढ़ रहे होते हैं तो कुछ ऐसे बच्चे होते हैं जिन्हें यही नहीं पता होता हैं की उनकी रूचि किस छेत्र में है या आगे उन्हें करना क्या हैं अगर आप भी इस स्तिथि में हैं तो अभी से इस बात पर ध्यान देना शुरू कर दे की आपकी रूचि किस छेत्र मैं हैं और आप क्या कर सकते हैं| इसी जगह पर अगर कोई आपकी मदद करता हैं आपको निर्देश देता हैं की आप क्या करे और क्या न करे  और आपको वो सब कुछ बताता हैं जिसमे आपकी रूचि हैं तो आपके लिए बहुत आसान हो जाता हैं की आप किस छेत्र में आगे बढे और आप क्या कर सकते हैं |

क्या करे ?

 अगर आप की Position भी यही हैं तो ये सोचना शुरू कर दे की आपकी रूचि किसमे हैं और आप क्या कर सकते हैं और जिस छेत्र में आप आगे बढ़ना चाहते हैं  उसके बारे में पता करना शुरू करे इसके लिए आप Internet, Books का प्रयोग  कर सकते हैं और किसी बड़े से भी मदद लें| लेकिन एक बात अच्छे से समझ लें की रूचि पहचानते पहचानते कही आप अपनी पढाई न ख़राब कर दे | आप अपन पढाई पर पूरा ध्यान रखे और साथ में इस बात  का ध्यान रखे की आप की रूचि किस छेत्र में है|

पढाई कैसे करे ?

जैसे ही जुलाई से Classes शुरू होती हैं वैसे ही बहुत से बच्चो का केवल एक काम होता है वो हैं Coaching Center ढूढना और इसके लिए वो अपना बहुत समय ख़राब कर देते हैं और बहुत सी कोचिंग में जाकर पढ़ते हैं | ऐसा उनको नहीं करना चाहिए बल्कि जो टाइम वो Coaching ढूढने में ख़राब करते हैं अगर वही टाइम वो Self Study करेंगे तो उसका Result coaching से बहुत ज्यादा बेहतर आएगा |मैंने self study पर एक पोस्ट लिखी थी जिसमे आप  self study के बारे में पढ़ सकते है|

Self Study का महत्व क्या हिं ?

सभी को तो ये भी नहीं पता हैं की coaching / tution का मतलब क्या होता हैं बस केवल coaching join टाइम पास के  लिए करते हैं लेकिन मैं आपको बताता हूँ की क्या मतलब होता है _
Coaching इस लिए ज्वाइन किया जाता हैं जिससे आपकी problem solve हो सके और जिस subject में आप कमजोर हैं उसे अच्छे से समझ सके| Coaching करना गलत नहीं हैं लेकिन Coaching को timepass बनाना गलत हैं |आजकल तो Coaching Mini School बन चूका है जैसे हम school में chapter wise notes बनाते हैं वैसे ही coaching में भी chapter wise notes बनाते हैं जो की बिलकुल गलत हैं एक  student के लिए| बस इतना ध्यान रखे की self study से जितनी Knowledge पा सकते हैं उतनी आप coaching से नहीं पा सकते हैं coaching तभी ज्वाइन करे जब आपको किसी subject में ज्यादा problem हो |

NOTE- इसमें coaching center की सारी गलती नहीं होती हैं बल्कि students को भी ध्यान देना चाहिए|

11th के  Exam ख़त्म होने पर Students को क्या करना चाहिए ?

लगभग सबकुछ तो मैं आपको ऊपर ही बता चूका हूँ अगर अभी तक आप Position ऊपर जैसी हैं और अभी भी आपने कुछ नहीं सोचा हैं की आपको करना क्या हैं और आपकी रूचि किसमे हैं तो देर तो हो चुकी हैं लेकिन बहुत देर नहीं हुयी हैं अभी भी आपके हाथ में बहुत कुछ हैं मेहनत करके आप सबकुछ पा सकते हैं क्यूंकि Hard Working Is The Key Of Success.

क्या करे ?

 मैं आपको कुछ उदाहरण बता देता हूँ जैसे आप Btech करना चाहते हैं तो ये Decide करे की आप किस Branch से Btech करना चाहते हैं Decide करने के बाद ये पता करे की आप कैसे Btech के लिए तयारी करे लेकिन मैं आपकी थोड़ी मदद कर देता हूँ| Btech करने के लिए सबसे बड़ा संस्थान IIT हैं जो स्टूडेंट्स Btech करने के लिए जुनूनी होते है तो उनकी पहली पसंद IIT ही होती हैं IIT में admission के लिए बहुत मेहनत करनी पड़ती हैं जिसके लिए Students 2 या 3 सालो से लगातार Practice करते हैं लेकिन चिंता करने की कोई बात नहीं हैं आप अगर 1 साल भी अच्छे से मेहनत कर लें तो आप भी  admission पा सकते हैं|
                               IIT मैं एडमिशन के लिए आपको Entrance Crack करना पड़ेगा वो Entrance Exam JEE MAINS होता है जिसका मतलब Joint Entrance Exam होता हैं ये पुरे India मैं होता हैं अगर ये exam आपने Crack कर लिया उसके बाद आपको JEE ADVANCE EXAM देना होगा अगर आपने ये exam crack कर लिया तभी आपको IIT में admission मिलेगा |
                              IIT के अलावा और भी entrance exam होते हैं लेकिन मैंने केवल IIT के बारे में बताया हैं अगर आपको कोई परेशानी हैं या कुछ पता करना हैं तो आप कमेंट बॉक्स में आप पूछ सकते हैं |
                                                             अगर आपका Medical में interest है और इसमें आगे बढ़ना चाहते हैं तो इसके लिए आपको Medical Entrance Exam के लिए  तयारी कर सकते है और entrance exam NEET होगा जिसे Crack करके आप कोई अच्छा College पा सकते हैं| इसके अलावा और भी बहुत सारे छेत्र हैं जिसमे आप आगे बढ़ सकते हैं और अपना Career बना सकते हैं लेकिन यहाँ पर मैंने केवल common field के बारे में बताया हैं |

पढाई कैसे करे ?

मैंने ये तो बता दिया  की अपनी रूचि को पहचाने लेकिन उसके साथ साथ अपनी पढाई को भी अच्छे से Manage करे क्यूंकि कुछ महीनो बाद आपका Board Exam होगा | टाइम तो बहुत लग रहा हैं लेकिन अगर आप हर दिन अच्छे से पढाई करते हैं तो आपको ये टाइम पता भी नहीं  चलेगा | सफलता पाने के लिए Proper Plan बनाना बहुत जरूरी हैं तभी पूरी तरह से सफलता मिलती हैं तो मैं आपको कुछ tips दे रहा हूँ जिससे आपकी मदद होगी _

1.सबसे पहले ज्यादा से ज्यादा self study को समय दे अगर ज्यादा Problem नहीं हैं तो coaching छोड़ दे |
2.आपने जितनी तयारी की हैं उसको Revise करते रहे और जो कुछ School में पढाया जा रहा हैं उसके साथ साथ चले पीछे न और जो पढ़े उसको revise जरूर करे |
3. अपने अनुसार time table सेट करे और उसे Follow करे ,बहुत ही कम follow करे  है लेकिन जो Follow       करते है उनकी पूरी लाइफ change हो जाती हैं |
4.सबसे जरूरी बात ये की बहुत से ऐसे बच्चे होते है जिनके PCM या PCB में बहुत अच्छे मार्क्स होते हैं लेकिन HINDI और ENGLISH में कम नंबर की वजह से उनकी मेरिट गिर जाती हैं तो HINDI और ENGLISH को भी समय दे |
5.सभी UNITS को अपने अनुसार बाँट लें  और Daily 6-8 घंटे पढाई करे अगर आपको भी मेरिट में आना हैं |

 BEST OF LUCK FOR YOUR EXAM PREPARATION.

मुझे उम्मीद हैं की post पढने के बाद आपको बहुत कुछ समझ में आ गया होगा लिकं अभी भी आपको कुछ समझ में नहीं आ रहा हैं तो comment box में पूछ  सकते हैं |





What students should do after passing 10th and 11th ? Hindi What students should do after passing 10th and 11th ? Hindi Reviewed by Shivam verma on Tuesday, June 06, 2017 Rating: 5

2 comments:

  1. Great Guidance for competition aspirant for improving thier efforts. Thanks for sharing

    ReplyDelete
  2. thanks...
    and stay motivated for ur every work..
    hv a bright future...

    ReplyDelete

Powered by Blogger.